1
 


अविनाश दास


धनंजय कुमार





From Film Desk:
'अनारकली '
-धनंजय कुमार और लेखक-निर्देशक अविनाश दास के बीच गुफ़्तगू


'अनारकली ' ने पहुँचाया पत्रकारिता से सिनेमा में!

(धनंजय कुमार और लेखक-निर्देशक अविनाश दास के बीच एक ख़ास गुफ़्तगू)

"2012 में मेरी बैचेनी इतनी बढ़ गई कि मुझे लगा मुझे कहानी कहनी ही है, और अब मैं सिनेमा के मीडियम में जाकर कोशिश करूँगा।"

अनारकली ऑफ आरा की मीडिया में खूब चर्चा हो रही है. देखने के बाद देखनेवाले दूसरों को भी देखने के लिए प्रेरित कर रहे हैं. यह एक दिलचस्प स्थिति है, खासकर उस लेखक निर्देशक के लिए, जिसकी यह फिल्म है.

इस फिल्म के लेखक निर्देशक हैं अविनाश दास. अविनाश दास बिहार के दरभंगा के रहनेवाले हैं. साहित्य और पत्रकारिता की गुफा से निकल सिनेमा में आये हैं. पहली ही फिल्म में जबरदस्त तारीफ मिले, तो यह बेहद उत्साहित करने वाली बात है. किसी की भी इच्छा जाग जाती है कि पता तो करें कि वह आदमी कौन है, जिसकी इतनी तारीफ हो रही है. इसलिए हमने अविनाश दास से बात की. सरल हृदय अविनाश स्क्रीनराइटर्स एसोसिएशन दफ्तर आये और फिल्म को लेकर धनंजय कुमार ने उनसे बातचीत की. 

 

Click here to Top