Tag Archives: विजय कुमार देवनाथ

दिल लगाने के बाद (कविता) – विजय कुमार देवनाथ

दिल लगाने के बाद कवि – विजय कुमार देवनाथ vijaydevnath@gmail.com   तू इस कदर उदास तो ना थी ज़िन्दगी क्या हुआ है तुझे दिल लगानेके बाद क्यूँ उम्मीद ए वफ़ा रखता है जमाने से यहा कौन किसका हुआ है वक्त … Continue reading

Posted in Members Contributions, Members' Creations | Tagged , | Comments Off on दिल लगाने के बाद (कविता) – विजय कुमार देवनाथ