भारत माता (कविता) – मदनलाल गोयल

भारत माता

यहाँ देव लोक की वाणी है,

कुदरत की लिखी कहानी है ।

यहाँ साधू संतो का साया है,

जिन्हे शांति पाठ पढ़ाया है ।

माँ गंगा ऊपर से आई है,

अमृत जल की धारा लाई है ।

है दिल में सभी के प्रीत यहाँ,

दया धर्म की होती है जीत यहाँ ।

हर कण में है भगवान यहाँ,

मिलें खुशिओं का बरदान यहाँ ।

यहाँ बेटी को पूजा जाता है,

यह शक्ति ही भारत माता है ।

 

भारत माता की जय

 

मदन लाल गोयल

Panchkula

goyal.haryau@gmail.com

This entry was posted in Members Contributions, Members' Creations and tagged . Bookmark the permalink.