इश्क़ मुबारक (गीत समीक्षा) – अमित कुमार तिवारी

गीत समीक्षाः  इश्क़ मुबारक (SONG REVIEW)
गीतकारः मनोज मुन्तशिर
संगीतकारः अंकित तिवारी
शैलीः मधुर गीत (MELODY SONG)
गायकः अरिजीत सिंह
फ़िल्मः तुम बिन 2

ON THE VIEW OF LYRICS-
गीतकार मनोज मुंतशिर ने इस प्रेम गीत को लिखा है, गीत में प्रेम के एहसास
और अभिव्यक्ति के सौन्दर्य को पंक्तिबद्ध किया गया है।

ON THE VIEW OF SINGING-
गायक अरिजित सिंह ने अलग तहज़ीब में गायन प्रस्तुत किया है, गीत संगीत
प्रेमियों द्वारा पसंद किया जा रहा है।

ON THE VIEW OF MUSIC COMPOSITION-

गीतकार अंकित तिवारी ने MELODY SONG में संगीत के नये आयाम दिये हैं,
संगीत में हरर्मोनियम, तबला,गिटार, ढ़ोलक का प्रयोग मंझे कलेवर के साथ
करना गीत को और भी मधुर बनाता है।

पूरा  गीत इस प्रकार हैः
इश्क़ मुबारक दर्द मुबारक इश्क़ मुबारक दर्द मुबारक
इश्क़ मुबारक दर्द मुबारक
तेरी बारिशें भिगायें मुझे
तेरी हवायें बहायें मुझे
पांवों तले मेरे ज़मीने चल पड़ीं
ऎसा तो कभी हुआ ही नहीं ईईई
ऐ मेरे दिल मुबारक हो यही तो प्यार हैऐऐ
ऐ मेरे दिल मुबारक हो यही तो प्यार हैऐऐऐ
इश्क़ मुबारक इश्क़ मुबारक दर्द मुबारक इश्क़ मुबारक
दर्द मुबारक इश्क़ मुबारक दर्द मुबारक
ऐसा लगता है क्यूं तेरी आंखें जैसे आंखो में मेरे रह गईं
कभी पहले मैनें न सुनी जो ऐसी बातें कह गईं
तू ही तू है जो हर तरफ मेरे तो तुझसे परे मैं जाऊं कहाँ
ऐ मेरे दिल मुबारक हो यही तो प्यार हैऐऐ
ऐ मेरे दिल मुबारक हो यही तो प्यार हैऐऐऐ
जहां पहले पहल तू आ मिला था
ठहरा हूं वहीं मैं अभी
तेरा दिल वो शहर है
जिस शहर से लौटा न मैं कभी
लापता सा मिल जाऊं कहीं तो
मुझसे भी मुझे मिला दे ज़रा
ऐ मेरे दिल मुबारक हो यही तो प्यार है
नि द पा नि द पा ग रे सा
नि द पा ग म गा रे सा
ऐ मेरे दिल मुबारक हो यही तो प्यार है
इश्क़ मुबारक दर्द मुबारक इश्क़ मुबारक दर्द मुबारक
इश्क़ मुबारक ईईईईईई इश्क़ मुबारक ।।
गीत समीक्षकः अमित कुमार तिवारी
SONG REVIEW BY AMIT KUMAR TIWARI
E MAIL- amitapkamitra@gmail.com
(उपरोक्त  गीत समीक्षा स्वतन्त्र गीत समीक्षक के तौर पर की गई है)

This entry was posted in Members Contributions, Members' Reviews and tagged , , . Bookmark the permalink.